मुलायम के पैंतरों में उलझती भाजपा

पिछले दो दशक से भी अधिक समय से मुलायम सिंह यादव देश की राजनीति के एक प्रमुख कलाकार रहे हैं । बीते दो दशकों में उन्होंने अनेक रंग दिखाये हैं पर पिछले कुछ दिनों से संसद के अंदर से लेकर बाहर तक जो नया रंग वे दिखा रहे हैं वह एक बार उनकी राजनीतिक कुशलता को दर्शाता है।

1989 में उत्तर प्रदेश में सरकार के मुखिया रहते हुए जिस भारतीय जनता पार्टी के नेता लालकृष्ण आडवाणी के नेतृत्व में चले राममंदिर में कारसेवा करने  अयोध्या आये निर्दोष कारसेवकों पर अंधाधुंध फायरिंग करवाकर देश के एक समुदाय विशेष के मध्य मसीहा की छवि प्राप्त करने वाले मुलायम सिंह यादव के लिये वही आडवाणी अब कलियुग के राजा हरिश्चन्द्र हो गये हैं। अब आडवाणी के लिये मुलायम सिंह अपने पुत्र की सरकार को झाड लगा रहे हैं। Continue reading “मुलायम के पैंतरों में उलझती भाजपा”

Advertisements